COMPUTER

Computer Ke Input Device Our Uske Prkar – कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस और उसके प्रकार

Computer Ke Input Device Our Uske Prkar - कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस और उसके प्रकार
Written by ts3it

नमस्कार दोस्तों कैसे हैं आप आज मैं फिर से आपके सामने एक बिल्कुल नई जानकारी के साथ उपस्थित हुआ हूं आज हम आपको कंप्यूटर से जुड़े एक ऐसे अंग की जानकारी देंगे जिसके बिना कंप्यूटर कुछ नही है‌। दोस्तों आपने कई बार कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस का नाम सुना होगा लेकिन आप अभी इसके बारे में अनजान है और यह जानना चाहते हैं कि इनपुट डिवाइस क्या है तो आज‌ ‍अाप बिल्कुल सही  पोस्ट पा आये है आज हम आपको कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस से जुड़े सारे डाउट क्लियर करेंगे । दोस्तों बिना ज्यादा समय बर्बाद की है आइए जानते हैं क्या है इनपुट डिवाइस ।

कंप्यूटर इनपुट डिवाइस क्या है ?

दोस्तों इस के नाम से ही आपको पता चलना होगा कि इनपुट करना मतलब कि इस उपकरण को हम कंप्यूटर में इनपुट करते हैं उसे हम इनपुट डिवाइस कहते हैं यह एक तरह का इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस होता है जो कंप्यूटर का ही एक मुख्य भाग होता है इनपुट डिवाइस के अलग-अलग प्रकार होते हैं जो अलग-अलग कामों के लिए बनाए गए हैं जैसे माउस द्वारा स्क्रीन पर क्लिक करना कीबोर्ड द्वारा कोई टेक्स्ट की डालना यह सभी अलग-अलग इनपुट डिवाइस के अलग-अलग काम है दोस्तों असल में इनपुट डिवाइस एक  हार्डवेयर होता है जो कंप्यूटर के साथ मिलकर काम करता है हम इनपुट डिवाइस के सहायता से कंप्यूटर से कुछ भी काम आसानी से करवा सकते हैं आइए दोस्तों एक-एक करके कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस के बारे में जाने ।

कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस के प्रकार

कंप्यूटर में बहुत सारे इनपुट डिवाइस होते हैं आइए हम एक-एक करके उन सभी के बारे में चर्चा करें ।

Keyboard

यह कंप्यूटर का सबसे मुख्य इनपुट डिवाइस होता है इसका प्रयोग कंप्यूटर में सबसे ज्यादा किया जाता है हम कंप्यूटर में कोई अच्छा या फिर कोई न्यूमेरिकल टाइप करने के लिए कीबोर्ड का इस्तेमाल करते हैं किसी काम को आदेश देने के लिए भी कंप्यूटर में कीबोर्ड का इस्तेमाल करते हैं कीबोर्ड में अक्षर और संख्या दोनों की बटने होती है इसमें जीरो से 9 तक न्यूमेरिकल और ए से जेड तक अल्फाबेट होते हैं इसके अलावा कीबोर्ड में और भी कई तरह की बटन होती है जिसे हम फंक्शन की कहते हैं इनका इस्तेमाल करके हम डायरेक्ट कोई फंक्शन कंप्यूटर में शुरू कर सकते हैं इसके अलावा कंप्यूटर में कैप्स लॉक नंबर लॉक स्क्रॉल लॉक आदि बटने भी होती है जिनको हम डोंगल कहते हैं इन सभी बटन का इस्तेमाल कुछ सब सबसे विशेष फीचर को ऑन या ऑफ करने के लिए किया जाता है दोस्तों पहले के समय में जो कीबोर्ड आते थे वह केबल के माध्यम से कंप्यूटर के सीपीयू मे अटैच होते थे लेकिन अब कुछ वायरलेस कीबोर्ड भी आने लगे हैं जो बिना केबल लगा ही काम करने लगते हैं ।

Scanner

स्केनर द्वारा किसी भी तरह की इनफार्मेशन को इलेक्ट्रॉनिक फॉर्मेट में चेंज किया जाता है किसी भी प्रकार की कोई इंफॉर्मेशन जैसे कोई भी चित्र या कोई प्रिंटेड पेज टेक्स्ट आदि को स्कैन करने की क्षमता स्कैंनर में होती है एक बार स्कैन होने के बाद में इसकी पूरी जानकारी कंप्यूटर मे सेव हो जाती है और अगर हम चाहे तो प्रिंटर द्वारा प्रिंट और भी निकाल सकते हैं।

Midi device

मिडी का फुल फॉर्म म्यूजिकल इंस्ट्रूमेंट डिजिटल इंटरफेस है या एक ऐसा सिस्टम है जो इलेक्ट्रॉनिक संगीत और बाद के बीच में इंफॉर्मेशन प्रसारित करती है इसकी मदद से मिडी कीबोर्ड को कंप्यूटर से जोड़कर कलाकार द्वारा संगीत को प्ले किया जाता है ।

MICR

इसका पूरा नाम मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रीडर है इसके द्वारा कैरेक्टर की पहचान की जाती है इस तकनीक का प्रयोग बैंकिंग क्षेत्र में प्रोसेसिंग की क्रिया को कम करने और दस्तावेजों की क्लीयरिंग में सबसे ज्यादा देखने में किया जाता है इसके द्वारा एमआईसीआर कोड कैरेक्टर को डिजिटल डाटा में बदला जाता है जो कंप्यूटर द्वारा आसानी से समझा जाता है ।

OMR

इसका पूरा नाम ऑप्टिकल मार्क रीडर होता है दोस्तों जब भी हम कई परीक्षाएं देते हैं तो उसमें हमारे सामने एक आंसर शीट आती है जिसमें विकल्प के सामने एक गोला बना होता और हमें उसको भरने के लिए कहा जाता है हम ओएमआर का प्रयोग करके ही उस आंसर शीट से सही उत्तर को चुनते हैं यह एक विशेष प्रकार का स्केनर होता है जो पेन और पेंसिल द्वारा किए गए निशान की पहचान करने की क्षमता रखता है यह परीक्षा कराने में सबसे ज्यादा उपयोगी होता है ।

Webcam

दोस्तों आपने कई बार देखा होगा कि कंप्यूटर के ऊपर एक छोटा सा कैमरा जुड़ा होता है इसे वेबकैम कहते हैं इसके द्वारा ली गई तस्वीर या वीडियो को‌ हम आसानी से अपने कंप्यूटर में देख सकते हैं डिजिटल कैमरा इनपुट वस्तु पर फोकस करके पिक्चर लेता है और फिर ली गई पिक्चर को डिजिटल रूप में डाटा ट्रांसफर करके कंप्यूटर में भेजता है ।

Microphone

यह भी यह भी एक तरह का इनपुट डिवाइस होता है इसका प्रयोग हम ऑडियो के रूप में डाटा को कंप्यूटर में इनपुट करने के लिए करते हैं यह एक तार के माध्यम से कंप्यूटर में जुड़ा होता है जिसमें ऑडियो कैप्चर करने की क्षमता होती है ।

Barcode reader

दोस्तों कभी कभी आपने देखा होगा कि जगह बाजार से कोई सामान खरीद कर लाते हैं उसके पीछे कुछ लाइने खींची होती है उनके नीचे कुछ नंबर लिखे होता है वास्तव में या एक बार कोड होता है जिसमें उस वस्तु का वास्तविक मूल्य कोड करके लिखा जाता है हम बारकोड रीडर की सहायता से उस कोड को आसानी से स्कैन करें उसमें लिखी जानकारी को पढ़ सकते हैं ।

OCR

इसका फुल फॉर्म ऑप्टिकल कैरेक्टर रिकॉग्नाइजेशन होता है यह मशीन कम्प्यूटर में इमेज की टेस्ट डाटा को ट्रांसफर करता है इसका इसका मेन काम ऑटोमेटिक डाटा एंट्री के लिए किया जाता है इसका उपयोग करके डाटा को स्कैन करके डिजिटल फॉर्म में ट्रांसफर किया जाता है ।

Pointing device

प्वाइंट डिवाइस उस डिवाइस को कहते हैं जो कैर्जर के रूप में हमें स्क्रीन पर आइकन के सामने ले जाता है और उसे क्लिक करने में हमारी मदद करता है अगर बात हम पॉइंट इन डिवाइस‌ कि करें तो माउस सबसे पॉपुलर प्वाइटिंग डिवाइस है यह एक उपयोगी और लोकप्रिय है जिसको हर कोई जानता है और इसका उपयोग हर कोई करता है या यूजर एक हाथ से कार्य में लेता है पुराने समय में माउस के नीचे एक तरह की रोलिंग बॉल हुआ करती थी जो मोमेंट को‌ सेंस करके माउस को केबल के माध्यम से कंप्यूटर को संचालित करती थी आज के समय में ऑप्टिकल माउस का प्रचलन जाता है इसमें रोलिंग बॉल के स्थान पर एक छोटे-छोटे सेंसर का उपयोग होता है जो मेज की सतह पर एक छोटे से भाग से माउस के मूवमेंट का पता लगाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है ।

तो दोस्तों यह आपके लिए कंप्यूटर के मुख्य को डिवाइस से संबंधित एक छोटी सी जानकारी थी इनका उपयोग कंप्यूटर में अपने कामों को आसान बनाने के लिए किया जाता है यह आपके लिए कंप्यूटर के इनपुट डिवाइस से संबंधित जानकारी थी ऐसे ही और जानकारी पाने के लिए आप हमारे साथ बने रहे बहुत-बहुत धन्यवाद ।

About the author

ts3it

Leave a Comment